पुतिन

क्या रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि 2019 का चुनाव मोदी ही जीतें?

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सितंबर 2019 में अपने देश में होने वाले आर्थिक सम्मेलन ईस्टर्न इकॉनोमिक फॉर्म में बतौर मुख्य अतिथि बुलाया है। राष्ट्रपति पुतिन ने प्रधानमंत्री मोदी से फोन पर बात कर उन्हें न्योता दिया. साथ ही पुतिन ने भारत में इस साल होने वाले आम चुनावों के संबंध में प्रधानमंत्री मोदी की सफलता की कामना की है. इसके संबंध में आप समाचार एजेंसी ANI का ट्वीट नीचे देख सकते हैं.

जैसे ही यह खबर आई, सोशल मीडिया पर अलग-अलग तरह की न्यूज और वीडियो शेयर होने लगे. ऐसा ही एक वीडियो हमारे हाथ लगा. इस वीडियो में बताया गया है कि दुनिया के सबसे शक्तिशाली नेताओं में शामिल पुतिन ने इच्छा जताई है कि 2019 का आम चुनाव पीएम मोदी ही जीते. वीडियो में आगे बताया गया है कि भारत के दुश्मन देशों चीन और पाकिस्तान की पसंद कांग्रेस पार्टी और इजरायल और रूस की पसंद प्रधानमंत्री मोदी है. नीचे दिया गया वीडियो देखिये उसकी बाद बाकी बातें..

वीडियो की पड़ताल

इस वीडियो में कई गलत दावे किए गए हैं. पुतिन ने यह नहीं कहा है कि आम चुनाव प्रधानमंत्री मोदी ही जीतें. उन्होंने उनकी जीत की कामना की है. यह बहुत ही साधारण बात है कि जब कोई राष्ट्राध्यक्ष दूसरे देश के प्रमुख नेता से बात करता है तो शिष्टाचार के नाते ऐसी बातें कही जाती हैं और यह बहुत ही आम बात हैं. अगर पुतिन भारत में किसी दूसरे नेता से भी बात करते तो वे भी उनकी सफलता की कामना करते.

बांग्लादेश के वीडियो को बंगाल का बताकर फैलाई जा रही है फेक न्यूज

दूसरी बात इसमें कही गई है कि पाकिस्तान और चीन, जिन्हें वीडियो में भारत का दुश्मन नंबर एक बताया गया है, को कांग्रेस पसंद है. इसके लिए वीडियो में कोई तथ्य नहीं दिए गए हैं. बस चीनी नेताओं के साथ राहुल गांधी की एक तस्वीर दिखाई गई है. ऐसी तस्वीरें पीएम मोदी की भी हैं, जहां वो चीन और पाकिस्तान के नेताओं के साथ खड़े हैं. इससे किसी देश की पसंद और नापसंद का पता नहीं चलता.

वीडियो के अंत में लोगों से कहा गया है कि हमें इजरायल और रूस की पसंद वाला प्रधानमंत्री चुनना चाहिए. भारत एक लोकतंत्र देश है और यहां के नेताओं का चुनाव यहां के लोग ही करेंगे. अगर हम भारतीय नागरिक प्रधानमंत्री मोदी को दोबारा चुनते हैं तो यह रूस और इजरायल की पसंद पर नहीं होगा. यह यहां के लोगों की पसंद होगी. ऐसे ही अगर आम चुनावों में लोग प्रधानमंत्री मोदी को नकार देते हैं तो भी यह भारत के लोगों की अपनी पसंद होगी, इस पर इजरायल या रूस की पसंद-नापसंद कोई मायने नहीं रखती.

क्या है सच्चाई

सच यह है कि पुतिन ने प्रधानमंत्री मोदी को चुनावों के लिए शुभकामना दी है. उन्होंने यह नहीं कहा है कि भारत में 2019 का चुनाव मोदी ही जीतें. यह पुतिन या रूस तय नहीं करेगा कि चुनाव कौन जीतेगा. यह हम भारतीय नागरिक तय करेंगे कि अगली बार प्रधानमंत्री की कुर्सी पर कौन सा नेता बैठेगा.

हमारी अपील

हमारी आपसे अपील है कि सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही फेक न्यूज के झांसे में ना आए. सोशल मीडिया बेवफा है इसलिए इस पर आई हर खबर को सच ना माने. किसी भी खबर पर भरोसा करने या शेयर करने से पहले उसे दूसरे सोर्स से वेरिफाई जरूर करें. फेक न्यूज समाज में नफरत और झूठ फैला रही है. यह हमारे समाज और देश के लिए खतरनाक है. इससे खुद भी बचाएं और अपने जानने वालों को भी बचाएं.

ये भी पढ़ें-

अरविंद केजरीवाल के पोर्न वीडियो देखने के दावे की हकीकत क्या है? यहां जानिये पूरी कहानी

क्या इस फोटो में नजर आ रही सेना अधिकारी रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की बेटी हैं?

पाकिस्तानः क्या पुलिस हिंदुओं के घरों में घुसकर अत्याचार कर रही है? जानिये, वायरल वीडियो की सच्चाई

Posted in Fake News and tagged , , , , , , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *