सबसे 'निकम्मा' प्रधानमंत्री

क्या पूर्व RBI गवर्नर उर्जित पटेल ने नरेंद्र मोदी को सबसे ‘निकम्मा’ प्रधानमंत्री कहा?

क्या पूर्व RBI गवर्नर उर्जित पटेल ने नरेंद्र मोदी को सबसे ‘निकम्मा’ प्रधानमंत्री कहा?

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने 10 दिसंबर को अपने पद से इस्तीफा देकर सरकार को एक बड़ा झटका दिया था. आरबीआई और सरकार के बीच में पिछले कई महीनों से कई नीतियों को लेकर तकरार चल रही थी. कुछ महीनों पहले भी उर्जित पटेल के इस्तीफे देने की संभावना जताई गई थी, लेकिन इसके बाद सरकार और आरबीआई के बीच समझौता हो गया था.

उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद से ही मोदी सरकार विरोधियों के निशाने पर है और वह सरकार पर स्वायत्त संस्थाओं को बर्बाद करने का आरोप लगा रहे हैं. इसी बीच सोशल मीडिया पर भी मामले से संबंधित एक तस्वीर वायरल हो रही है. इस तस्वीर में दावा किया जा रहा है कि उर्जित पटेल ने नरेंद्र मोदी को सबसे ‘निकम्मा’ प्रधानमंत्री बताया है और गर्वनर के पद पर रहते हुए उन पर बहुत दबाव बनाया गया था. ये तस्वीर आप नीचे देख सकते हैं.

चौकीदार चोर है…

Posted by अंध-भक्त मुक्त भारत #ABMB on Friday, December 14, 2018

वायरल तस्वीर को ‘अंध-भक्त मुक्त भारत’ नामक फेसबुक पेज पर शेयर किया गया है. पेज 3 लाख 37 हजार से ज्यादा लाइक्स हैं और 5 लाख से अधिक फॉलोवर्स हैं. पोस्ट लिखे जाने तक इस तस्वीर को लगभग 1300 बार शेयर किया जा चुका था.

आरबीआई के पूर्व गर्वनर के प्रधानमंत्री के बारे में ऐसे शब्द चौंकाने वाले हैं, इसलिए हमने इस बयान की पड़ताल की. हमारी जांच में सामने आया कि उर्जित पटेल ने प्रधानमंत्री के बारे में ऐसा कुछ नहीं बोला जैसा कि वायरल तस्वीर में दावा किया जा रहा है. ना तो उन्होंने प्रधानमंत्री को गाली दी और ना ही उन्होंने अपने ऊपर दबाव होने की बात कही.

पढ़ें- Fake News- झूठा है राजस्थान में जीत के बाद कांग्रेस की रैली में पाकिस्तान का झंडा फहराए जाने का दावा

उर्जित पटेल ने अपने इस्तीफे का कारण निजी बताया था. इस्तीफा देते हुए उन्होंने लिखा था, ‘अपने निजी कारणों की वजह से मैंने तुरंत प्रभाव से अपने पद से इस्तीफा देने का फैसला किया है. भारतीय रिजर्व बैंक को इतने साल तक अपनी सेवाएं दे पाना मेरे लिए सौभाग्य की बात है.’ उनका इस्तीफा पत्र आप नीचे देख सकते हैं.

सबसे 'निकम्मा' प्रधानमंत्री

Source- Indian Express

हमारी जांच में उर्जित पटेल के नरेंद्र मोदी को सबसे ‘निकम्मा’ प्रधानमंत्री कहने और अपने ऊपर दबाव होने का दावा गलत साबित हुआ है. हालांकि विशेषज्ञ यह जरूर मानते हैं कि उन पर तमाम नीतियों को लेकर सरकार की ओर से दबाव था. लेकिन खुद उर्जित पटेल ने अपने ऊपर दबाव होने की बात कभी नहीं कही, जैसा कि वायरल तस्वीर में दावा किया जा रहा है.

पढ़ें- सचिन पायलट ने नहीं फेंकी पीएम मोदी के पोस्टर पर स्याही, शेयर हो रहा है झूठा दावा

पढ़ें- भाजपा पर आरोप- चंदा उगाहने के लिए सेना के नाम का इस्तेमाल कर रही है पार्टी

पढ़ें- क्या कांग्रेस की जीत के बाद मुस्लिमों की रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे?

Posted in Fake News and tagged , , , , , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *