फेसबुक पर जुर्माना

फेसबुक पर क्यों लगा लगभग 4.5 करोड़ रुपये का जुर्माना

फेसबुक पर जुर्माना : ब्रिटेन के सूचना आयुक्त कार्यालय (आईसीओ) ने फेसबुक पर आंकड़ों की सुरक्षा संबंधी कानून के गंभीर उल्लंघन को लेकर पांच लाख पाउंड का जुर्माना लगाया है. यह इस कानून के मुताबिक सबसे बड़ा जुर्माना है. आईसीओ ने यह जुर्माना कैंब्रिज एनालिटिका मामले में फेसबुक की भूमिका को लेकर लगाया है. यह मुद्दा पिछले कुछ महीनों से चर्चा में रहा है.

आईसीओ ने कहा कि उसकी जांच में पता लगा कि फेसबुक ने 2007 से 2014 के बीच यूजर की निजी जानकारी का उपयोग उनकी सहमति के बिना ही एप्लिकेशन डेवलपरों को करने की अनुमति दे दी. सूचना आयुक्त एलिजाबेथ डेन्हम ने कहा कि फेसबुक अपने यूजर्स के डेटा की गोपनीयता की रक्षा करने में नाकाम रहा. उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी कंपनी को बेहतर कदम उठाना चाहिए था. यह पहली बार नहीं है जब फेसबुक पर इस तरह का जुर्माना लगा है.

पहले भी लगा है फेसबुक पर जुर्माना

इससे पहले ब्रिटेन के डाटा रेगुलेटर ने फेसबुक पर 5 लाख पाउंड (लगभग 4.55 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया है. यह जुर्माना अपने यूजर्स का डाटा सुरक्षित नहीं रख पाने के लिए लगाया गया है. जांच में यह बात सामने आई थी कि 2016 में यूरोपीय यूनियन के जनमत संग्रह के दौरान फेसबुक पर मौजूद यूजर्स का डाटा का मिसयूज किया गया था.

क्या पीएम मोदी ने 15 लाख रुपये हर महीने सैलरी वाली मेकअप आर्टिस्ट रखी है?

आपको बता दें कि फेसबुक पर कई बार यूजर्स के डाटा चोरी के आरोप लगते रहे हैं. इससे पहले खुद फेसबुक ने कैंब्रिज एनालिटिका की ओर से लगभग 8.7 करोड़ यूजर का डाटा चोरी किए जाने की बात को स्वीकार किया था. कैंब्रिज एनालिटिका ने मौजूदा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए चुनाव प्रचार का अभियान चलाया था.

लगातार विवाद बढ़ने के बाद फेसबुक ने यूजर्स के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए कुछ कदम उठाए थे. फेसबुक ने इस साल के शुरुआती तीन महीनों में लगभग 58.3 करोड़ फेक अकाउंट डिएक्टिवेट किए थे. कैंब्रिज एनालिटिका विवाद के बाद पारदर्शिता बनाए रखने के लिए फेसबुक ने कहा कि हर दिन लाखों फर्जी अकाउंट बनाने की कोशिश को रोकने के लिए उसने यह कदम उठाया है.

ये भी पढ़ें-

ALERT : शेयर हो रही है भारतीय सैनिक द्वारा कश्मीरी युवक के जूते चुराने की फेक न्यूज

क्या योगी आदित्यनाथ की हिंदू युवा वाहिनी ने अंतर-धार्मिक शादी करने वाले कपल की पिटाई की?

क्या नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने कहा था, RSS और हिंदू महासभा गद्दार हैं?

Posted in Social Media and tagged , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *