बुर्ज खलीफा

क्या बुर्ज खलीफा पर राहुल गांधी की फोटो दिखाई गई थी? क्या है वायरल दावे की सच्चाई

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 11 जनवरी से दो दिवसीय दुबई दौर पर जाएंगे. उनकी इस यात्रा से पहले फेसबुक पर एक वीडियो के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि दुबई की मशहूर इमारत बुर्ज खलीफा पर राहुल गांधी की तस्वीर दिखाई गई है. इससे जुड़े कुछ फेसबुक पोस्ट आप नीचे देख सकते हैं. फिर इसकी पड़ताल करते हैं.

Dubai

राहुल गाँधी के दुबई दौरे से पहले बुर्ज खलीफा पर राहुल गाँधी की तस्वीर का खूबसूरत नज़ारा | #RahulGandhi #Dubai Rahul Gandhi’s pic displayed on Burj. Khalifa Dubai

Posted by With Rahul Gandhi on Monday, January 7, 2019

वीडियो की पड़ताल

हमने इस वीडियो की पड़ताल करने की सोची. हमारी पड़ताल में हमें द क्विंट की स्टोरी मिली. इस स्टोरी में इस बारे में विस्तार से बताया गया है. द क्विंट के मुताबिक, बुर्ज खलीफा पर राहुल गांधी की फोटो नहीं दिखाई गई थी. यह एक मोबाइल ऐप की मदद से बनाया गया वीडियो है. क्विंट ने ऐसे और भी उदाहरण देकर बताए हैं कि इस ऐप की माध्यम से ऐसे वीडियो बनाए जा सकते हैं. यहां तक की आप भी इस ऐप की मदद से बुर्ज खलीफा पर खुद की फोटो वाला वीडियो बना सकते हैं, लेकिन यह वीडियो नकली होगा.

अरविंद केजरीवाल के पोर्न वीडियो देखने के दावे की हकीकत क्या है? यहां जानिये पूरी कहानी

इसी प्रकार किसी ने इस ऐप के माध्यम से कांग्रेस अध्यक्ष की फोटो बुर्ज खलीफा पर लगा दी. हालांकि, असल में उस इमारत पर राहुल की फोटो नहीं लगाई गई थी. इससे पहले महात्मा गांधी, हमारे राष्ट्रध्वज तिरंगे की फोटो इस इमारत पर लग चुकी हैं. इसकी झलक आप नीचे दिए गए वीडियो में देख सकते हैं.

Flag of India in unveiled on Burj Khalifa

India's flag displayed on Burj Khalifa as Indian Prime Minister Narendra Modi arrives in #UAE as part of his Middle East trip. More info: http://bit.ly/2EUptVv#Dubai #AbuDhabi #MarhabaNamaste #ModiinUAE

Posted by Khaleej Times on Saturday, February 10, 2018

वीडियो का सच

फेसबुक पर वायरल हो रहे वीडियो की पड़ताल पर यह पता चलता है कि यह वीडियो फेक है. किसी ऐप की मदद से राहुल गांधी की फोटो को बुर्ज खलीफा पर लगा दिया गया है. असल में ऐसी बुर्ज खलीफा पर राहुल की फोटो नहीं लगी है. हम आपसे वायरल वीडियो पर सच मानकर भरोसा ना करने की अपील करते हैं.

हमारी अपील

हमारी आपसे अपील है कि सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही फेक न्यूज के झांसे में ना आए. सोशल मीडिया बेवफा है इसलिए इस पर आई हर खबर को सच ना माने. किसी भी खबर पर भरोसा करने या शेयर करने से पहले उसे दूसरे सोर्स से वेरिफाई जरूर करें. फेक न्यूज समाज में नफरत और झूठ फैला रही है. यह हमारे समाज और देश के लिए खतरनाक है. इससे खुद भी बचाएं और अपने जानने वालों को भी बचाएं.

ये भी पढ़ें-

पाकिस्तानः क्या पुलिस हिंदुओं के घरों में घुसकर अत्याचार कर रही है? जानिये, वायरल वीडियो की सच्चाई

बांग्लादेश के वीडियो को बंगाल का बताकर फैलाई जा रही है फेक न्यूज

FACT CHECK: क्या अशोक गहलोत ने कहा है कि कांग्रेस सरकार का अंत होना निश्चित है?

 

Posted in Fake News and tagged , , , , , , , , , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *