रवीश कुमार ने पूछा- क्या भारत का कोई नेता झूठ बोलने में ट्रंप को नहीं हरा सकता?

डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद से अब तक 8,158 बार झूठे या गुमराह करने वाले दावे कर चुके हैं. अमेरिकी अखबार वाशिंगटन पोस्ट ने अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी है. ट्रंप को अपने पद पर काबिज हुए दो साल हुए हैं और इसी मौके पर यह रिपोर्ट सामने आई है.

रवीश कुमार

ट्रंप ने अपने कार्यकाल के पहले साल हर दिन औसतन करीब छह बार गुमराह करने वाले दावे किये जबकि दूसरे वर्ष उन्होंने तीन गुना तेजी से हर दिन ऐसे करीब 17 दावे किये. अखबार ने कहा कि इसमें राष्ट्रपति के दूसरे साल किये गए ऐसे 6000 से ज्यादा आश्चर्यजनक दावे शामिल हैं.

क्या केजरीवाल ने कोलकाता रैली में कहा था कि मोदी और शाह पाकिस्तान को बर्बाद कर देंगे?

वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने इसे लेकर फेसबुक पर एक लंबी पोस्ट लिखी है. इसमें उन्होंने लिखा है, ‘ट्रंप कितना झूठ बोलते हैं, इसका हिसाब रखने वाला भी खलिहर होगा. वाशिंगटन पोस्ट के दफ्तर में स्टूल पर बिठा दिया होगा कि लो गिनो कि राष्ट्रपति कितना झूठ बोलते हैं. अब उसने गिन दिया है कि अब तक कार्यकाल में 8,158 झूठ और भ्रामक बयान दे चुके हैं. यह ख़बर दुनिया भर में छप गई है. किसी ने सोचा नहीं कि इससे झूठ पर कितना असर पड़ेगा. भारत को लेकर मैं बिल्कुल चिन्तित नहीं हूं. मुझे यकीन है कि यहां झूठ बोलने की प्रतियोगिता चल पड़ेगी और कोई न कोई बंदा ऐसा होगा जो ट्रंप को हराने की ठान लेगा. ऐसा कैसे हो सकता है कि हम लोग ट्रंप से ज़्यादा झूठ नहीं बोल सकते. एक दिन बोल कर दिखा देना है. तभी हमारा दुनिया में आफिशियली नाम होगा. ऐसे तो नाम है ही.’

‘पीएम मोदी युवाओं को टी-शर्ट बांटेंगे’, अगर आपके पास भी ऐसा मैसेज आया है तो संभल जाइये

उनकी यह पोस्ट आप नीचे देख सकते हैं.

क्या भारत का कोई नेता झूठ बोलने में ट्रंप को नहीं हरा सकता? ट्रंप कितना झूठ बोलते हैं, इसका हिसाब रखने वाला भी खलिहर…

Posted by Ravish Kumar on Tuesday, January 22, 2019

Posted in Trending and tagged , , , , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *