सचिन ने बीजेपी ज्वाइन

FACT CHECK: इस बात में कितनी सच्चाई है कि सचिन ने बीजेपी ज्वाइन कर ली है?

सोशल मीडिया पर पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को लेकर एक दावा किया जा रहा है. फेसबुक पर डाली गई पोस्ट में कहा गया है कि सचिन ने बीजेपी ज्वाइन कर ली है. इस दावे को पुख्ता करने के लिए सचिन की भगवा कुर्ते में फोटो और भाजपा के झंडो वाली फोटो को दिखाया जा रहा है. अगले साल लोकसभा चुनाव होंगे, उससे पहले कई नए लोग राजनीति में उतरेंगे. इसलिए कई लोग इस बात को सच मानकर यकीन भी कर रहे हैं. पहले आप ये पोस्ट देखिये, उसके बाद हम इस दावे की पड़ताल करेंगे.

सचिन ने बीजेपी ज्वाइन

फेसबुक पर शेयर हो रही पोस्ट

 

सचिन ने बीजेपी ज्वाइन

फेसबुक पर शेयर हो रही पोस्ट

सचिन ने बीजेपी ज्वाइन

फेसबुक पर शेयर हो रही पोस्ट

पड़ताल

इन पोस्ट में लिखा गया है कि सचिन ने बीजेपी का दामन थामा है. अलग-अलग फेसबुक पेज पर अपलोड की गई फोटो में व्याकरण से जुड़ी गलतियां तो हैं ही साथ ही इस जानकारी का कोई सोर्स नहीं दिया गया है. इसलिए इस खबर की पड़ताल जरूरी हो जाती है. जब हमने इंटरनेट पर इससे जुड़ी खबर देखी तो हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिसमें बताया गया हो कि सचिन ने बीजेपी ज्वाइन कर ली है. सचिन इतनी बड़ी शख्सियत है. अगर वे किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल होते हैं तो यह बड़ी खबर होगी और पूरा मीडिया इस खबर को दिखाएगा. लेकिन हमें सचिन के बीजेपी ज्वाइन करने की कोई खबर नहीं मिली. जाहिर है सचिन ने अभी तक कोई राजनीतिक पार्टी का दामन नहीं थामा है.

जानिये, लोग क्यों फैलाते हैं फेक न्यूज, सामने आई यह बड़ी वजह

इस फोटो में सचिन एक भगवा कुर्ते में दिख रहे हैं. सचिन की इसी फोटो को उनके द्वारा भाजपा से जुड़ने के सबूत के तौर पर पेश किया जा रहा है. जब हमने इस फोटो के बारे में इंटरनेट पर सर्च किया तो पता चला कि सचिन की यह फोटो सिद्धिविनायक मंदिर में दर्शन के दौरान की है. द क्विंट ने इसकी पड़ताल करते हुए बताया कि सचिन अपने 42वें जन्मदिन के मौके पर सिद्धिविनायक मंदिर में दर्शन करने गए थे. उस दौरान उन्होंने भगवा कुर्ता पहना था.

सच

हमारी पड़ताल में पता चला कि सचिन ने बीजेपी ज्वाइन नहीं की है. फेसबुक पर इससे जुड़ी फेक न्यूज शेयर की जा रही है. हम आपसे अपील करते हैं कि फेक न्यूज पर भरोसा ना करें. फेक न्यूज हमारे समाज और देश के लिए खतरनाक है. यह ना सिर्फ लोगों के बीच नफरत फैलाती है बल्कि किसी की जान भी ले सकती है. इसलिए ना तो फेक न्यूज पर भरोसा करें और ना ही फेक न्यूज को शेयर करें.

ये भी पढ़ें-

क्या राहुल गांधी ने यह कहा है कि वे वोट बैंक के लिए नकली हिंदू बने हैं?

क्या वायरल तस्वीर में शराब और सिगरेट पीते हुए दिख रही महिला बरखा दत्त हैं?

Posted in Fake News and tagged , , , , , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *