सवाल पूछते साहसी पत्रकार जिम अकोस्टा और बौखलाते हुए राष्ट्रपति ट्रंप, जानें क्या-क्या हुआ व्हाइट हाउस में

ट्रंप vs जिम अकोस्टा

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का मीडिया और पत्रकारों से छत्तीस का आंकड़ा किसी से छुपा नहीं है और आए दिन अमेरिकी राष्ट्रपति और मीडिया किसी ना किसी बात को लेकर आमने-सामने होते हैं. ऐसा ही एक मामला बुधवार को देखने को मिला, जब ट्रंप मीडिया से बेहद तल्खी से पेश आए. व्हाइट हाउस में हुई प्रेस कॉन्फेंस के दौरान हुए इस हंगामे के बारे में हम आपको विस्तार से जानकारी देते हैं.

जिम अकोस्टा

Source- Google Search

क्या हुआ ट्रंप की प्रेस कॉन्फेंस में?

  • सारा मामला शुरु हुआ सीएनएन के व्हाइट हाउस संवाददाता जिम अकोस्टा के सवाल से. जिम ने ट्रंप से केंद्रीय अमेरिका के प्रवासियों से संबंधित सवाल पूछा जो अमेरिका की ओर बढ़ रहे हैं. ट्रंप प्रशासन इन प्रवासियों के लैटिन अमेरिका के तरफ मूवमेंट को ‘आक्रमण’ मानता है. अकोस्टा ने यही सवाल ट्रंप से किया कि प्रवासी सीमा से हजारों किलोमीटर दूर है तो यह आक्रमण कैसे हो सकता है.
  • इस पर ट्रंप ने कहा है कि उनके और जिम अकोस्टा के विचारों में अंतर है और वह इसे आक्रमण मानते हैं. इसके बाद अकोस्टा ने ट्रंप और रूस के संबंधों को लेकर चल रही जांच को लेकर भी सवाल किया. ट्रंप ने इसके बाद उनके सवालों का जबाव देने से इनकार करते हुए माइक रखने को कहा.
  • इस बीच एक व्हाइट हाउस कर्मचारी, जिसे इंटर्न बताया जा रहा है, ने अकोस्टा से माइक छीनने की कोशिश की और इस बीच अकोस्टा का हाथ उन्हें छू गया.
  • इसके बाद ट्रंप ने जिम अकोस्टा से कहा कि तुम बहुत ही बदतमीज इंसान हो और सीएनएन को तुम्हारे ऊपर शर्म आनी चाहिए. हंगामा प्रेस क्रॉन्फेस के बाद भी जारी रहा. व्हाइट हाउस ने अकोस्टा का प्रेस पास कार्ड यह कहते हुए निलंबित कर दिया कि उन्होंने इंटर्न से गलत व्यवहार किया. मामले का पूरा वीडियो नीचे देखें.

  • मामले में व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘हम इस व्यक्ति के हार्ड पास को निलंबित करने के फैसले पर अडिग हैं. हम ऐसे अनुचित व्यवहार को कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे, जो इस वीडियो में साफ दिख रहा है.’ सारा ने ट्वीट के साथ इंटर्न और अकोस्टा के बीच माइक लेने के दौरान हुई घटना का स्लो वीडियो पोस्ट किया है.

  • इसके बाद तमाम मीडिया प्लेटफॉर्म ने इस स्लो वीडियो को डॉक्टर्ड बताया और दावा किया कि यह दिखाने के लिए कि अकोस्टा ने इंटर्न पर तेजी से हाथ रखा, वीडियो के साथ छेड़छाड़ की गई है. असल में अकोस्टा ने बस माइक को अपने पास रखने की कोशिश की और इस दौरान उनका हाथ इंटर्न पर रख गया. लेकिन उन्होंने कोई अनुचित व्यवहार नहीं किया था.

पढ़ें- क्या कांग्रेस IT हेड ने कहा, नेहरू ना होते तो सरदार पटेल को कोई सरकारी चपरासी की नौकरी भी नहीं देता?

एक तरफ लोग अकोस्टा के साहस की तारीफ और ट्रंप के व्यवहार की आलोचना कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग अकोस्टा की इस बात के लिए आलोचना भी कर रहे हैं कि जब अमेरिकी राष्ट्रपति ने उन्हें एक सवाल का जबाव दे दिया था तो उन्हें लगातार दो-तीन सवाल नहीं पूछने चाहिए थे. बता दें कि अमरेकिा के हालिया इतिहास में यह पहली बार है जब किसी पत्रकार का व्हाइट हाउस प्रेस पास निलंबित किया गया है.

पढ़ें- लोकसभा एंकर जागृति शुक्ला ने एक बार फिर कही कश्मीर में नरसंहार की बात

पढ़ें- क्या सबरीमाला में महिलाओं को प्रवेश की इजाजत देने वाले पूर्व मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा को लकवा मार गया है?

पढ़ें- क्या वायरल तस्वीर में शराब और सिगरेट पीते हुए दिख रही महिला बरखा दत्त हैं?

Posted in Media and tagged , , , , , , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *