पीएम मोदी की मेकअप आर्टिस्ट

क्या पीएम मोदी ने 15 लाख रुपये हर महीने सैलरी वाली मेकअप आर्टिस्ट रखी है?

पीएम नरेंद्र मोदी के स्टाइल को काफी तारीफ होती है. सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है जिसमें दावा किया गया है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने 15 लाख रुपये महीने की सैलरी पर मेकअप आर्टिस्ट रखी है. सोशल मीडिया पर इससे जुड़ी कई पोस्ट शेयर हो रही है. हम इस दावे की पड़ताल करेंगे, लेकिन उससे पहले देखिये वायरल हो रही फेसबुक पोस्ट का स्क्रीनशॉट-

पीएम मोदी की मेकअप आर्टिस्ट

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही पोस्ट

फेसबुक के अलावा ट्विटर पर ऐसी कई पोस्ट वायरल हो रही हैं. इन्हें आप नीचे देख सकते हैं.

पीएम मोदी की मेकअप आर्टिस्ट से जुड़े दावे की पड़ताल

शेयर हो रही पोस्ट में एक महिला पीएम नरेंद्र मोदी के चेहरे का मेजरमेंट कर रही हैं. इस महिला के हाथ में बॉक्स है. इस बॉक्स को ध्यान पर देखने पर इसमें बना Madame Tussauds का लोगो नजर आता है. इसका मतलब यह है कि इस फोटो का मैडम तुसाद (Madame Tussauds) से जरूर कोई संबंध होगा. बता दें कि मैडम तुसाद एक वैक्स म्यूजियम है जहां मशहूर हस्तियों के मोम के पुतले बनाए जाते हैं.

पीएम मोदी की मेकअप आर्टिस्ट

मैडम तुसाद का लोगो

जो लोग खबरों से वास्ता रखते हैं उन्हें पता होगा कि पीएम मोदी का भी स्टैच्यू मैडम तुसाद म्यूजियम में लगाया गया था. पीएम मोदी का यह स्टैच्यू अप्रैल 2016 में लगाया गया था. इसके लिए मैडम तुसाद म्यूजियम के कर्मचारियों ने पीएम मोदी का मेजरमेंट किया था. इसके लिए पीएम मोदी के चेहरे, उनके हावभाव और उनकी बॉडी को अच्छी तरह से जांचा परखा जाता है. यह फोटो तभी की है जब पीएम मोदी के चेहरे का मैजरमेंट किया जा रहा था. पीएम मोदी के पास खड़ी महिला उनकी मेकअप आर्टिस्ट ना होकर मैडम तुसाद म्युजियम की कर्मचारी है. इससे जुड़ा एक वीडियो आप नीचे देख सकते हैं-

सच

हमारी पड़ताल में पता चला कि फेसबुक और ट्विटर पर शेयर हो रहा दावा झूठ है. पीएम मोदी ने 15 लाख रुपये की सैलरी वाली कोई मेकअप आर्टिस्ट नहीं रखी है. जिस फोटो के आसरे ऐसा दावा किया जा रहा है उसकी सच्चाई हम आपको ऊपर बता चुके हैं.

सीबीआई में छिड़ी जंग के बारे में वो सब बातें जो आप जानना चाहते हैं

हमारी अपील

सोशल मीडिया पर पीएम मोदी की मेकअप आर्टिस्ट से जुड़ी पोस्ट फेक है. हम आपसे अपील करते हैं कि इस तरह की फेक पोस्ट, फेक न्यूज, फेक इमेज और वीडियो पर भरोसा ना करें. ना ही इन्हें शेयर या फॉरवर्ड करें. सोशल मीडिया पर बहुत झूठ फैला है. इस झूठ से बचकर रहने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें-

ALERT : शेयर हो रही है भारतीय सैनिक द्वारा कश्मीरी युवक के जूते चुराने की फेक न्यूज

वायरल फोटो की पड़ताल सीरीज : क्या रिक्शा खींचने वाली लड़की आईएएस है जो अपने पिता को रिक्शे में घूमा रही है

क्या नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने कहा था, RSS और हिंदू महासभा गद्दार हैं?

Posted in Fact Check and tagged , , , , , , , , , .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *